Media Coverage

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में नेपकोन-2022 कॉन्फ्रेंस में पहले दिन पढ़े गये 350 शोध पत्र, देश विदेश के विशेषज्ञ डॉक्टरों ने दी नवीनतम जानकारी

उदयपुर में चेस्ट विशेषज्ञों के 24वें राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस नेपकोन-2022 में आयोजित विभिन्न कार्यशालाओं के सम्पन्न होने के बाद उद्घाटन समारोह का आयोजन हुआ। मुख्य कॉन्फ्रेंस का आयोजन 11 नवंबर से गीतांजलि मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में आरंभ किया गया। इस बार नेपकोन- 2022 की थीम "इनकरेज प्रिसिशन मेडिसिन" है जिसका अर्थ है सही जांच करके सही दवा प्रदान करना। इस प्रकार का सम्मेलन प्रति वर्ष नेशनल कॉलेज ऑफ़ चेस्ट फिजिशियन (एनसीसीपी) और इंडियन चेस्ट सोसाइटी (आईसीएस) के तत्वावधान में होता है। कॉन्फ्रेंस में

उदयपुर में चार दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मेडिकल कांफ्रेंस नेपकोन – 2022 का आगाज़

चेस्ट विशेषज्ञों का 24 वाँ चार दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस नेपकोन - 2022 दिनांक 10.11.22 गुरुवार से 13.11.22 रविवार तक उदयपुर के गीतांजली मेडिकल कॉलेज और रबीन्द्रनाथ टैगोर मेडिकल कॉलेज में होने जा रहा हे | नेपकोन - 2022 की इस बार की थीम “इनकरेज प्रिसिशन मेडिसिन” है जिसका अर्थ है सही जांच करके सही दवा प्रदान करना| इस प्रकार का सम्मेलन प्रति वर्ष नेशनल कॉलेज ऑफ़ चेस्ट फिजिशीयन (एन.सी.सी.पी.) एवं इन्डीयन चेस्ट सोसायटी (आई.सी.एस.) के तत्वाधान में होता है | इतना बड़ी मेडिकल कांफ्रेंस दक्षिण राजस्था

राजस्थान में पहली बार HITHOC तकनीक बनी मेसोथेलियोमा कैंसर रोगियों के लिए आशा की नई किरण

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल के द्वारा प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। प्रेस वार्ता आर.सी.एच.ओ. डॉ अशोक आदित्य, श्री अंकित अग्रवाल (एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, गीतांजली ग्रुप), श्री प्रतीम तम्बोली (सीईओ, गीतांजली मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल) की गरिमामय उपस्थिति में हुई| प्लूरल मेसोथेलियोमा कैंसर के रोगी का उपचार करने वाले चिकित्सक कैंसर सर्जन डॉ. आशीष जाखेटिया, डॉ. अजय यादव, कैंसर स्पेशलिस्ट डॉ अंकित अग्रवाल, डॉ रेणु मिश्रा एवं एनेस्थिस्ट डॉ .नवीन पाटीदार द्वारा विस्तृत जानकारी दी गयी|

मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना के अंतर्गत हुआ निःशुल्क इलाज - गीतांजली हॉस्पिटल में साँस की नली में फँसे सुपारी के टुकड़े को बिना ऑपरेशन दूरबीन द्वारा सफलतापूर्वक निकाला

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में उदयपुर के रहने वाले 58 वर्षीय रोगी को साँस की नली में फँसे सुपारी के टुकड़े को बिना ऑपरेशन दूरबीन द्वारा सफलतापूर्वक निकाल कर श्वास रोग विभाग के डॉ अतुल लुहाड़िया, डॉ रोनक कांकरेचा, डॉ हिरेन हड़िया एवं टेक्नीशियन लोकेंद्र ने सफल ब्रोंकोस्कोपी कर स्वस्थ जीवन प्रदान किया ।

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में हुआ दक्षिण राजस्थान में पहली बार केडेवेरिक अंगदान (Deceased Organ Donation)

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर में पहली बार केडेवेरिक अंगदान हुआ। दक्षिण राजस्थान में पहली बार ऑर्गन ट्रांसपोर्टेशन के लिए ग्रीन कोरिडोर बनाया गया। यह अंगदान नाई की रहने वाली 44 वर्षीय श्रीमती स्नेहलता जी के ब्रेन डेड घोषित हो जाने पर उनके परिवार द्वारा निर्णय लेने पर किया गया| यह अंगदान स्टेट ऑर्गन एंड टिश्यू ट्रांसप्लांट आर्गेनाइजेशन(सोटो) द्वारा निर्धारित क्रम व नियमानुसार किया गया| रोगी को 12 अक्टूबर 2022 को गीतांजली हॉस्पिटल के न्यूरोलॉजी विभाग में भर्ती किया गया, जहां डॉक्टर्स

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में हुआ "पिंक अक्टूबर" का आयोजन

शनिवार, 14 अक्टूबर को गीतांजली मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, गीतांजली कैंसर सेंटर द्वारा स्वर्गीय श्रीमती नर्मदा देवी अग्रवाल सभागार में "पिंक अक्टूबर" ब्रेस्ट कैंसर सर्वाइवर मीट एंड अवेयरनेस प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम ने उन रोगियों को समर्पित किया जिन्होंने स्तन कैंसर से लड़ाई लड़ी और उस पर विजय भी हासिल की और स्तन कैंसर के बारे में जनता में जागरूकता पैदा की| कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डीन डॉ डी.सी कुमावत, सी.ई.ओ प्रतीम तंबोली रहे| मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ अंकित अग्रवाल, डॉ रेणु मिश्रा

जबलपुर से आए रोगी के सीने में जमे हुए पानी एवं जालो का मेडिकल थोरेकोस्कॉपी द्वारा हुआ सफल इलाज

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में मध्य प्रदेश- जबलपुर के रहने वाले 19 वर्षीय रोगी को सफल मेडिकल थोरेकोस्कॉपी कर स्वस्थ जीवन प्रदान किया गया। दो घंटे की इस प्रक्रिया में सीने में जमे हुए पानी एवं ऐडहेशन्स(जालो) को हटाया गया जिनका सामान्यतः इलाज ओपन सर्जरी द्वारा किया जाता है। इलाज करने वाली टीम में श्वास रोग विभाग के डॉ अतुल लुहाडिया व उनकी टीम में डॉ मोनिका बंसल ,डॉ त्रिशी नागदा ,डॉ अपूर्व गुप्ता एवं टेक्नीशियन लोकेंद्र व कमलेश शामिल थे ।

भारत मे लगभग 13 करोड़ मानसिक रोगी और एक करोड़ लोगों को गंभीर मानसिक रोग: डॉ जितेंद्र जीनगर

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, उदयपुर के मनोचिकित्सा विभाग ने मानसिक स्वास्थ्य एवं मनोरोग के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से 4 अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक विभिन्न कार्यक्रमो का आयोजन किया ।जिसका समापन 10 अक्टूबर को मुख्य अतिथि, गीतांजली यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर डॉ ऍफ़.एस. मेहता, डीन डॉ डी.सी. कुमावत एवम एडिशनल प्रिंसिपल डॉ मंजिन्दर कौर की उपस्थिति में हुआ |

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में विश्व मानसिक दिवस का हुआ आगाज़

मानसिक स्वास्थ्य एवं मनोरोग के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से हर वर्ष 4 अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक विश्व मानसिक सप्ताह मनाया जाता है|

Showing 1 to 9 of 33 records